Advertisement

चीन में दिखाया काली माता ने अपना चमत्कार चीन के सभी लोग माँ काली के भक्त हो गए ! जाने इस चमत्कार के बारे में

"क्या आपने किसी भगवान् को चाउमिन खाते हुए देखा है अगर नही देखगे है तो आपको बतादे की एक ऐसा मंदिर जहा काली माँ अपने भक्तो की चाउमिन खाने आती है जाने इस चमत्कार"

Advertisement

आपने अबतक कई चमत्कारिक मंदिरो के बारे में सुना होगा और उनको देखा भी होगा लेकिन आज में आपको एक ऐसे मंदिर के बारे में बता रहा हु जिसके बारे में जानकर आपको यकीन नही होगा यहाँ काली माता के चमत्कार को देखा कर लोग चकित रह जाते है अक्सर आपने भगवान् का कई तरह की मिठाईया और फल से भोग लगते हुए देखा होगा लेकिन यहाँ के लोग काली माँ के लिए चाउमिन का भोग लगते है !

Image Source: religion.bhaskar

आपको यकीन नही होरहा होगा लेकिन ये सच है जी हां यहाँदेवी माँ के लिए चूमीं का भोग ही लगाया जाता ये मंदिर कोलकाता में टंगरा में अतीत है इस मंदिर में चाउमिन का भोग लगाया जाता है फिर इसी प्रसाद को भक्तो में बाट दिया जथा है इस कारन इस मंदिर का नाम चाउमिन काली माँ पड़ गया ये मंदिर कई सालो पुराना मंदिर है पिछले 55 सालो से इसोन चेन इस मंदिर की देख भाल कर रहे है  !

इस मंदिर के पीछे  एक चीनी बच्चे की कहानी जुडी हुई है ये कहानी कई साल पुराणी है दरअसल एक बार चीन में बीमारी के चलते सव लोग परेसान हो रहे थे डॉक्टर भी इस बीमारी का इलाज नही कर पारहे थे तब सभी लोग देवी माँ के शरण में आगए और उनसे प्रार्थना करने लगे यहाँ साथ दिनों तक प्रत्न करने पर दिवे माँ ने इनकी पुकार सुनली उसी समय सारे बच्चे इस बीमारी से मुक्त  हो गए तब से ही इस मंदिर की काफी मान्यता बढ़ी है दूर दूर से लोग इस मंदिर के दर्शन करने केे लिए आते है !
Image Source: timesofindia

इस मंदिर में देवी माँ की मूर्ति के सामने चाइनीज अगरबत्तियां और केंडल जलाई जलाई है चीनी चीनी लोगो के दिल में इस मंदिर के प्रति बहोत गहरी आस्था है यहाँ देवी की सच्चे मनसे पूजा करते है इस मंदिर में चाउमिन का भोग लगाया जता है 60 साल पुराने इस मंदिर में कैल पूजा के दौरान कई लोग माँ के दर्शन के लिए आते है इस मंदिर में माँ की पूजा अर्चना हिन्दू धर्म के अनुसार ही होती है !

Image Source: hindutva

भारत को चीन की सभ्यता में ये मंदिर मेल का प्रतीक है क्योंकि इस मंदिर में काली माँ की पूजा हिन्दू धर्म के अनुसार ही होती है लेकिन इस मंदिर में माँ का भीग कुछ अलग तरीके से लगाया जाता है अपने देखा होगा की भारत में माँ ता के मंदिर में लोग कई तरह के फ्लो काभोग लगते है भाई चीन में लोग माता के इस मंदिर में चाउमिन का भोग लगते है !
दुनिया में काल से भी बढ़कर है ये शक्ति इसका गुस्सा सांत करने के लिए इन के चरणों में भगवान् शिव को गिरना पड़ा ! जाने इसके बारे में


Advertisement
Related Content

The worship of the mother avoids jail is not prison जेल जाने से बचाती है ये माता यहां पूजा करने से जेल नही होती ! जाने इस देवी के बारे में

आपने कई सारे चमत्कारिक मन्दिरो के बारे में सुना होगा लेकिन आज में आपको एक ऐसे चमत्कारिक मन्दिर के बारे में बता रहा हु जिसके बारे में आपने पहले कभी नही सूना होगा

place found where the bakasur was killed from bhima मिल गई वो जगह जन्हा वनवास के दौरान भीम ने मारा था बकासुर को

ममलेश्वर महादेव मंदिर जो की हिमाचल प्रदेश की करसोगा घाटी के ममेल गांव में स्तिथ है। हिमाचल प्रदेश जिसे की देव भूमि भी कहा जाता है पग पग पे है मंदिर.

king indradyumya made temple of jagannathpuri, full story आदिवासी सरदार करता था नील माधव रूप में जगन्नाथ जी की पूजा, किसने बनाया मंदिर?

स्कन्द , ब्रह्मा पुराण के अनुसार जगन्नाथ जी के निर्माण की कहानी बेहद ही आकर्षक है, पुराणो के अनुसार पहले जगन्नाथ जी की पूजा नील माधव के रूप में की जाति थी

What really Maharishi had given birth to the three Dritrasht, Pandu and vidur जानिए, क्या सच में महर्षि ने इन तीनों को जन्म दिए था- धृतराष्ट, पाण्डु एवं विदुर

आपने महाभारत तो देखी होगी लेकिन उसमे धृतराष्ट विदुर, पाण्डु का जन्म कैसे हुआ था! बता दे उनका जन्म ...

how to bheem get force of 1000 elephants क्या सच मैं था भीम के पास हज़ार हाथियों का बल ?

आप साब जानते है कुंती पुत्र भीम के पास हज़ारो हाथियों की शक्ति थी, वो एक साथ लाखो योद्धाओ से लड़ सकते थे, पर उनके पास ये शक्ति आई कहा से जाने...

 This temple is a doer diseases एक ऐसा मंदिर जो बीमारियों का इलाज कर्ता है ! जाने इस मंदिर के बारे में

क्या आपने किसी ऐसे मंदिर के बारे में सुना है जो बीमारियों का इलाज करता हो सायद आपने नही सुना होगा लेकिन आज हम आपको एक ऐसे ही मंदिर के बारे में बता रहे है जो ...

Facts About Good Lines in Palm 15 महत्वपूर्ण बातें जो आपके हाथ की रेखाएं बताती है

इंसानी हाथ की हथेली में तीन रेखाएं मुख्य रूप से दिखाई देती हैं। ये महत्वपूर्ण तीन रेखाएं जीवन मस्तिष्क और हृदय को दर्शाती है। इनमें से एक रेखा जो अंगूठे

Ganesha's head chopped exists today, with its worship! गणेशजी का कटा हुआ शीश है आज भी मौजूद, होती है इसकी पूजा!

आपने गणेश पुराण या गणेश जी की कथा तो सुनी और देखी तो होगी ही और यह भी देखा गया है की भगवान गणपति का मुख हाथी का है। पर आपको कुछ अलग ही...

shishupal cousin brother of lord krishna killed by him सतयुग में था भक्त का पिता, द्वापर में था भाई फिर भी मार डाला भगवान ने उसे

भगवान की लीला भी अजीब है कभी वो अपने ही भक्त के पिता को मारते है तो कभी अपने ही भाई को, पर भगवान के हाथो मरते ही व्यक्ति का मोक्ष तय हो जाता है.

amazing facts about mandodari, the wife of rawana रावण की मौत के बाद क्या मंदोदरी ने कर ली थी विभीषण से शादी?

त्रेता युग में रामायण कथा के अनुसार रामावतार ने राक्षसराज रावण का वध कर अपनी पत्नी सीता को मुक्त कराया था, राजा राम वापस आये और 11000 वर्षो तक अयोध्या पर राज...

vajra the only survival's of yaduvansha dominated brajmandla समूचे द्वारका में अकेला था वज्र, नहीं जानता था अपने परदादा कृष्ण को

उसने कहा की मैं राजा हूँ मुझे क्या दर्द पर एक बात समझ नहीं आती की द्वारिका के सारे लोग बेहद खुशहाल है तो इस महल में रहने वाले इसे छोड़ के कँहा चले गए.

 6- year-old girl is doing wonders to see people worship 6 साल की बच्ची के चमत्कार को देखकर लोग इसकी पूजा कर रहे है ! जाने इस देवी के बारे में

एक 6 साल की लड़की के शरीर के आकर और उसके चमत्कार को देख कर लोग उसको देवी मानकर उसकी पूजा कर रहे है जाने इस चमत्कारी देवी के बारे में क्या किया था इसने .........

Here Lord Krishna temple to wear the clothes of about 10 lakh यहाँ भगवान् कृष्ण पहनते है 10 लाख रुपए के कपड़े जाने इस मन्दिर के बारे में !

आपने सिख होगा की कई लोग इतने महगे महगे कपड़े पहनते है और अपने कई लोगो को पहनते हुए देखा होगा लेकिन क्या आपने किसी भगवान् को महगे कपड़े पङते गए देखा है जाने ......

After all, the son of Karna Kunti's funeral in the hands of Krishna Why? आखिर कुंती पुत्र कर्ण का अंतिम संस्कार श्रीकृष्ण के हाथो में क्यों हुआ?

आपने महाभारत देखि होगी पर आपको पता है की कर्ण का अंतिम संसकर कहा पर हुआ था और कहा गया है की इनका संस्कार कृष्ण के हाथो में हुआ पर क्यों...

After all gods and goddesses, animals, why the vehicle chosen, what is the secret? आखिर देवी-देवताओ ने अपने वाहन पशु-पक्षी ही क्यों चुने, जाने इसका क्या है रहस्य?

ब्रह्म अर्थात ईश्वर ही मात्र सर्वोच्च्य है। देवी और देवता एक ब्रह्म के प्रतिनिधि हैं। लेकिन आपने कभी सोचाकी पशु पक्षी ही भगवान ने अपने वाहन क्यों...

idumban temple of tamilnad has unique tradition of lemon auction आस्था की बोली, इंदुम्बन मंदिर में निम्बू बिकते है हजारो में तेईस हजार में बिका एक निम्बू

इस मंदिर में देवी-देवता को फल चढ़ाने से उनकी मनइच्छा पूरी होती है और परिवार में वैभव होता है। बोली में एक नींबू तो 23000 रुपये तक में नीलाम हुआ है।

mythological women charactors want to end her life on death of there husband पौराणिक इतिहास की 3 पत्निया जो गर्भवती होकर भी होना चाहती थी सती, कौन हुई कामियाब?

महिलाओं को जितना सम्मान भारतीय संस्कृति में मिला है उतना कंही और नहीं, महिलाओं ने भी अपने को मिले इस सम्मान को हर कदम पे सही ठहराया है. आज जाने इतिहास 3 औरते

in diwali hasant celebrated at the time of mahabharata? तो क्या महाभारत काल में नहीं मनाई जाती थी दिवाली?

आने वाली 11 नवंबर को दीपावली का महापर्व आ रहा है, कार्तिक मास की अमावस्या को हर वर्ष ये महापर्व पुरे भारत भर में परम उल्लास से मनाया जाता है. अधर्म पर धर्म की

kailash mansarovar yatra made easy कैलाश मानसरोवर यात्रा अब होगी आसान

दुनिया का सबसे ऊंचा शिवधाम कैलाश मानसरोवर माना जाता है, जहां भगवान शिव के दर्शन बहुत कठनाइयो का सामना करने के बाद होते हैं।

alians sawed in many country, is they are indian gods? कंही हिन्दू देवता ही तो नही है एलियंस?

एलियंस के बारे में कई बातें कंही जाती है कोई कहता है की वो मंगल पे है कोई कहता है की ब्रह्माण्ड के किसी गृह पे है, पर किसी को आजतक एक भी ऐसा साक्ष्य नही मिला.

god would be boarn again क्या सच मे भगवान श्री कृष्ण एक बार फिर धरती पर जन्म लेने जा रहे है ?

कल्कि पुराण के अनुसार भगवन फिर से जन्म लेंगे कल्कि के चार हाथ होंगे और ब्रह्मा जी वायु देव को ये सन्देश भेजेंगे की वह मनुष्य रूप में रहे

amazing mythological saga of demon love story अपनी ही पत्नी के पेट में अपने पुत्र संग पला था ये राक्षस, पर क्यों?

ब्रह्मा ने अपने मानस पुत्रो और प्रजापतियों की रचना की जिससे श्रिष्टि आगे बढ़ सके, दक्षप्रजापति की पुत्रियों से कश्यप ऋषि का विवाह हुआ जिनसे दानव भी जन्मे थे.

story of saint pundalika and the making of pandharpur dham क्यों भक्त पुण्डलिक ने भगवान को किया ईंट पे खड़ा?

महाराष्ट्र संतो की नगरी है, इस धरती पर असंख्य भक्त हुए जिनते भारत के और किसी भी राज्य में नही हुए है. इन्ही में से एक थे भक्त शिरोमणि पुण्डलिक जिन्हे भगवान

when lord krishna told importance of one piece of food जब भगवन कृष्णा ने समझे द्रौपदी को अन्न के एक दाने की कीमत

भक्तभयहारी भगवान उसी क्षण द्रोपदी के समक्ष प्रकट हो गए और उन्होंने बटलोई में लगा हुआ शाक का एक पत्ता खाकर विश्व को तृप्त कर दिया।