Advertisement

अनोखा मंदिर इस मंदिर में आँखों की पीड़ा पल भर में दूर हो जाती है ! जाने इस अनोखे मंदिर के बारे में

"आपने कई चमत्कारिक मन्दिरो के बारे में सुना होगा लेकिन आज में आपको एक ऐसे चमत्कारिक मंदिर के बारे में बता रहा हु जिसके बारे में आपने पहले कभी नही सुना होगा ....."

Advertisement

दिया में ऐसे कई मंदिर है जिनके चमत्कार को देख कर लोग चौक जाते है इन इसी कारन इन मंदिरो में भक्तो की भीड़ लग जाती है यहाँ कोई ना कोई चम्तकार होता रहा था है लेकिन आज में आपको एक एक ऐसाइ मंदिर के बारे में बार रहा हु जिसके बारे में आपने पहले कभी नही सुना होगा इस मंदिर में वेवी माँ की कृपा से सरे दुःख दूर हो जाते है यहां देवी माँ खास कर आखो का इलाज करती है जाने इस अनोखे मंदिर के बारे में !

Image Source:  wikipedia.

ये मंदिर बिहार में स्थित है इस मंदिर को माँ चंडिका के नाम से जाना जाता है इस मंदिर के बारे में लोगो का ऐसा मानना है की यहाँ माँ पार्वती आँख गिरी थी लोगो का कहना है की यहाँ पूजा करने बालो लोगो की आखो की पीड़ा दूर हो जाती है इस मंदिर में आखो से संवंधित किसी भी प्रकार की पीडा हो उसके सटी माँ पार्बती चुटकियो में दूर कर देती है ये मंदिर चंडिया नामक स्थान पर स्थित है नवरात्र के दिनों में यहाँ कई सिद्ध पुरुष और तांत्रिक आते है !

यहाँ के लॉफ ऐसा मानते है की इस जगह पर माँ पार्बती की आँख गिरि थी इस मंदिर से यदि कोई अपनी आँख में काजल लगा लेता है तो उसकी आँखो की पीड़ा दूर हो जाती है  इस लिए यहाँ कई लोग अपनी आँखो की समस्य को लेकर आते है और यहाँ से ठीक होकर जाते है इस तरह यहाँ देवी माँ ने चमत्कार कर रखा है यहाँ के मुख्या पुजारी नंदन बाबा है इनका कहना है की नवरात्र के दिनों में यहाँ काफी भीड़ रहती है इसलिए यहाँ सुबह 3 बजे से ही पूजा स्टाट हो जाती है !
Image Source: getafirstlife

अष्टमी  के दिन तो यहां विशेष पूजा का आयोजन किया जाता है दूर दूर से माँ के दर्शन के लिए लोग आते है लेकिन मनीर के अन्य पुजारियो का कहना है की इस मंदिर का कोई प्रमाणिक इतिहास नही है लेकिन इस मंदिर से जुडी कई रोमांचक कहानिया है ऐसा कहा जाता है की राजा दक्ष की पुत्री शती को लेकर जब भगवान् शंकर भ्रमण कर रहे थे तव उनकी एक आँख यहाँ गिरि थी इसी कारन इस मंदिर को इतना महान माना गया है  !

Image Source:  thehindu

इसी के साथ साथ इस मंदिर के पीछे महाभारत की कहानी भी जुडी ही है इस प्रकार इस मंदिर को कई अलग अलग कहानियो से जोड़ा गया है इस मंदिर लेकिन ये सच है की इस मंदिर में  माँ अपने बख्तो की पीड़ा का निबारन तुरंत करती है इस लिए इस मंदिर की इतनी मान्यता है की दूर दूर से यहाँ दर्शन करने के लिए भक्त लोग आते है !



Advertisement
Related Content

competition between vashishtha and vishwamitra, lesser know the fight दो ऋषियों की प्रतिस्पर्धा का परिणाम, बनते बनते रह गए दूसरे स्वर्ग और ब्रह्माण्ड!

भारतीय पुराणो में ऋषि मुनियो के तपोबल से तो आप वाकिफ ही होंगे, उनका तीनो लोको में आना जाना रहता था, मुचकन्द राजा ने इंद्र की तरफ से युद्ध भी लड़ा था. लेकिन आपने

khatu shyam ji priested by lord krishna devotees as neme of him क्यों कहा जाता है खाटू श्याम जी को हारे का सहारा

राजस्थान के सीकर जिले में स्थित खाटू श्याम नरेश भगवान के नाम से पूजे जाते है, उन्होंने कृष्ण के मांगने पर हँसते हँसते अपने शीश का दान दिया था.

why ganesh berth celebrated as ganesh chaturthi श्रीगणेश के श्राप के कारण कृष्ण पर लगा था चोरी का झूठा आरोप!

भगवान गणेश का जन्म दिवस गणेश चतुर्थी के से जुडी है ये अद्भुद पौराणिक कथा, भागद्रपद माह की शुक्ल पक्ष की चतुर्थी के दिन भगवान गणेश का जन्म हुआ था, इस दिन को

yudhisther organised ashvamegha yagya after bhishma killing गंगापुत्र की हत्या के बदले अर्जुन को मिली पुत्र के हाथो मौत

भीष्म पितामह की मृत्यु से युधिष्ठिर को बहुत दुख हुआ, शोक निवारण के लिए महर्षि वेदव्यास ने युधिष्ठिर से अश्वमेध यज्ञ करने के लिए भी कहा।

pativrata shaivya taken her husband to prostitute कोढ़ी पति के लिए सूर्योदय नहीं होने दिया इस पतिव्रता ने, वेश्यागमन भी कराया

ऐसी ही एक पतिव्रता थी जिसका नाम था शैव्या, उसके पति उससे प्यार नहीं करते थे और सदा तिरस्कार करते थे इसके बावजूद न पति को भगवन की तरह ही पूजा.

the pandavas, draupadi was also wives क्या द्रौपदी के अलावा भी पत्निया थी पांडवो की

प्राचीन ग्रंथो के अनुसार यह सभी जानते है की द्रोपदी पांडवो की पत्नी है लकिन इसके अलावा भी पांडवो की अन्य पत्निया थी जिसके जिक्र बहुत ही काम मिलता है

Rudraksha Shiva originated from what was Asuo? क्या सच में रुद्राक्ष की उत्पत्ति शिव के आसुओ से हुई थी?

पौराणिक कथाओ के अनुसार रुद्राक्ष की उत्पत्ति शिव शंकर के आसुओ से मानी जाती है एक दिन शिव का मन अचानक दुखी हो गया जब उनकी आँखे खुली को उनकी आँखों से आसु निकले!

 This temple is a doer diseases एक ऐसा मंदिर जो बीमारियों का इलाज कर्ता है ! जाने इस मंदिर के बारे में

क्या आपने किसी ऐसे मंदिर के बारे में सुना है जो बीमारियों का इलाज करता हो सायद आपने नही सुना होगा लेकिन आज हम आपको एक ऐसे ही मंदिर के बारे में बता रहे है जो ...

the saga of great sage shuka, son of vyasa यज्ञाग्नि से जन्मे थे व्यास के पुत्र शुकदेव, इस मामले में बाप को भी किया शर्मिंदा!

परीक्षित ने जब ऋषि शमिका का अपमान किया तो उसे सांप द्वारा काटे जाने पर मृत्यु होने का श्राप मिला था, हालाँकि जो जन्मा है उसकी मृत्यु निश्चित है लेकिन फिर भी पर

bharat hanuman's  arrow hit आखिर भरत ने क्यों मारा था हनुमान को तीर

राजा भरत ने राम को तीर मारा था जब वह संजीवनी पर्वत लेकर जा रहते जब श्री राम वनवास पर गए थे उस समय भारत इसी जगह पर तपस्या करने के लिए गया था

king nriga freed by krishna form the curse of sage गाय दान देने पर राजा को मिला श्राप, सूखे कुए में छिपकली बन रहना पड़ा सदियों तक

एक दानवीर राजा था नाम था नृग, वो अपने दर पे आये किसी को भी खली नहीं जाने देता था. एक बार राजन ने एक ब्राह्मण को गाय दान दी जिससे ब्राह्मण प्रसन्न हो गया.

What really put the rat on wishful serpent is circled क्या सच में यहां पर चूहे इच्छाधारी नाग की परिक्रमा लगाते है

आपने कई मंदिर और धार्मिक महत्व के बारे काफी सुना और पड़ा होगा! आज आपको एक ऐसी जगह के बारे में बता रहे है जहाँ पर कई ...

raja puru's sacrifice was more than ganga son devvrat देवव्रत से भी ज्यादा भीषण था पूर्वज पुरू का बलिदान

भीष्म ने आजीवन ब्रह्मचर्य स्वीकार किया पर उनके पूर्वजो में से एक ने उनसे भी भीषण त्याग किया था जिस कारण उनके वंश का नाम ही पुरुवंश पड़ गया.

vastudosh prevention tricks in vastushastr काले जादू और बुरी नजर से बचाती है ये साधारण लगने वाली चीजे

वास्तु विज्ञान के अनुसार घर में किसी भी प्रकार के वास्तु दोष को दूर करने के लिए घर की छत पर उत्तर पूर्व दिशा में पांच तुलसी का पौधा लगाना चाहिए।

the curses of lord vishnu, who made him to take ram krishna avtara भगवान विष्णु को अपने ही परम भक्तो से मिले दो श्राप, तब लेना पड़ा राम कृष्ण अवतार!

अगर आपके साथ कोई बुरा बर्ताव करता है जो आपका ही कोई सबसे प्रिय हो तो इसमें दुखी मत होइए, ये आपके ही अपनत्व का नतीजा है जो आपको मिल रहा है. अगर बात भगवान किहो तो

how well you know about dashratha's wives? युद्ध में जीता था दशरथ ने कौशल्या को, कैकई की माँ को निकाला गया था घर से!

रामायण की कहानी राम जन्म से लेके रावण की हत्या तक ही केंद्रित है, उससे पहले और बाद के बारे में बहुत कम लोग ही जानते है. ऐसे में जिन पात्रो को ज्यादा महत्त्व नही

unique and untouched story of great ramayana श्री राम जी के भी थी तिन सालिया, जाने किनसे हुई थी उनकी शादी?

रामायण का नाम ध्यान में आते ही मन मर्यादाओ से भर जाता है, लेकिन आज भी अनेको ऐसे रामायण के तथ्य है जो की छुपे हुए है. मसलन श्रीराम की पत्नी सीता के तीन छोटी बहने

kindama rishi was of very shy nature शर्मीले थे किंदम ऋषि, झाड़ियो में रहते थे काम इच्छाओ की पूर्ति करते थे जानवर बन!

महाभारत में ऋषि किन्दमा का वर्णन है, वो इतने शर्मीले थे की वो आम इंसानो से भी दूर रहते थे, ऊके बारे में कहा जाता है की वो झाड़ियो में छुप कर रहते थे.

Bhim was said to be the strength of a thousand elephants ! जाने कहा मिला था भीम को हजार हाथियों का बल !

आप सभी ने महाभारत तो देखि ही होगी उसे महिमा को हजार हाथियों का बल मिला था आज में आपको उस जगह के बारे में बता रहा हु ऐसा कहा जाता है की पाचों पांडवो में अकेले भी

The severed head was meghanaad really began to laugh but why? क्या सच में मेघनाद का कटा सिर हंसने लगा था लेकिन क्यों?

रामायण में मेघनाद राम ओर लक्ष्मण को मारना चाहता था लेकिन उसकी मृत्यु हो जाती है लेकिन उसका सिर काटने पर भी वो हसने लगता ! क्योकि जब...

sage durvasa incarnation of lord shiva, his tale of life रुद्रावतार दुर्वासा से जुडी किंवदंती, कुम्भीपाक नरक भी बन गया स्वर्ग सरीखा!

तीन देवियो ब्राह्मणी पारवती और लक्ष्मी जी को नारद मुनि ने सती अनुसूया के सती की ऐसी महिमा सुनाई की वो ईर्ष्या से जल उठी, उन्होंने हर यत्न से सती की परीक्षा ली.

kali mantra destroys evil effects on your kundli काली माता का ये मंत्र आपके सारे दुख-दर्द दूर करेगा..

देवी मां कालि का का स्वरूप जितना भयावह और डरावना है उससे रूप से कही ज्यादा भक्तों के लिए आनंददायी है। आमतौर पर काली की पूजा तांत्रिक किया करते हैं।

shakuni not want to revenge pandva's, he wants to destroy kaurava's शकुनि की दुश्मनी कौरवो से थी, उसने पांडवो को भड़काकर लिया प्रतिशोध

पति और पत्नी दोनों अंधे के समान हो गए थे गंधारी ने आँखों पे पट्टी बांध की पारी की बराबरी, धृतराष्ट्र और गांधारी के सौ पुत्र और एक पुत्री थी.

what will happen with soul after death according to garud purana मरने के बाद क्या होता है आत्मा का, कैसे होता है आत्मा से बर्ताव जानिए गरुड़ पुराण से

क्या होता है मौत के बाद हमारी आत्मा के साथ किस अंग से निकलती है आत्मा. कैसे दिया जाता है कर्मो का फल, कैसे होता है आत्मा का उत्थान. पिंड दान का क्या है महत्त्व?