Advertisement

यहाँ सुहाग उजड़ने के भय से करवा चौथ का ब्रत नही रखती महिलाए ! जाने इस अनोखी प्रथा के बारे में

"आपने देखा होगा की अपने सुहाग की रक्षा के लिए महिलाए करवा चौथ का ब्रत रखती है लेकिन एक ऐसी जगह झा महिलाए करवा चौथ ब्रत नही रखती है उनका मानना है की ऐसा करने से "

Advertisement

दुनिया में लोग अलग अलग प्रथाओ को मानते है कही इन प्रथाओ का अर्थ कुछ और होता है तो कही कुछ और होता है आपने देखा होगा की महिलाए करवा चौथ का ब्रत अपने पति की लंबी आयु के लिए करती है इन महिलाओ का मानना ये है की करवा चौथ का ब्रत रखने से पति को लंबी आयु प्राप्त होती है लेकिन एक ऐसी जगह जहा महिलाए इसे ग़लत मानती है इन का मानना ये है की करवा चौथ का ब्रत रखने से सुहाग उजड़ने का भय रहता है !

Image Source: khaskhabar

इस लिए ये महिलाए करवा चौथ का ब्रत नही रखती है जाने इस अजीब परम्परा के बारे में ऐसा खा होता है ! ये खवर करनाल की है यहाँ चौहान गोत्र की महिलाए ऐसा मानती है ! आपको बतादे की करनाल के तीन गांव ऐसे है जिनमे चौहान गोत्र के लोग रहते है यहाँ की महिलाओ का ये मानना है की अगर कोई सुहागिन महिला करवा चौथ के ब्रत को रखती है तो उसके पति के प्राण संकट में पड़ सकते है अर्थात उसके पति की मौत हो सकती है !

यहाँ ये परम्परा आज से नही सदियो से चली आरही है यहाँ आज से 600 साल पहले एक सुहागिन महिला इस तरह का श्रॉफ दिया था इस लिए इसके भय से यहाँ की महिलाए करवा चौथ का ब्रत नही रखती है उनका ये मानना है की कोई सुहागिन इस ब्रत को नही रख्सक्ती ऐसा करने से उसके पति की मौत हो सकती है लेकिन इस गांव के बेटिया किसी दूसरे गांव में जहा उनकी शादी होती है भ बो अपने पति की लंबी उम्र की धुँआ मांग सकती है !
Image Source: .india.co
 
आपको बतादे की इस गांव को गोंदर नाम के एक व्यक्ति ने ही बसाया था इस लिए इस गांव का नाम गोंदर ये परम्परा यहाँ के तीन गावो में ही कायम है बाकि और गावो में करवा चौथ के ब्रत को खूब मनाते है इस गांव के लोगो का कहना है की इस गाँव मे भी  पहले करवा चौथ का ब्रत किया जाता था लेकिन 700 साल पहले इस गांव का इतिहास बदल गया यहाँ के लोगो का कहना है की आज से करीब 700 साल पहले रहड़ा गांव की एक लड़की की शादी गोदर गांव में हुई थी !

लेकिन ये लड़की करवा चौथ के ब्रत से पहले अपने घर बालो के पास चली गई थी लेकिन करवा चौथ के एक दिन पहले इस लड़की को सपना आय की आपके पति की हत्या करदी गई है उसका शव बाजरे के खेत में बिच में छुपा कर रखा है इस लड़की ने सुबह होते है अपने घर बालो को बताया घरवाले सुबह जल्दी ही उसे उसकी ससुराल लेकर पहुचे जब पति के शव को तलाशा गया था तो बाजरे के खेत में उसका शव मिल गया था !

Image Source: indianexpress

उस दिन इस महिला ने करवा चौथ का ब्रत रखा था और ये महिला अपने घर में बड़ी महिलाओ को करवा देना चाहती थी लेकिन जब इस महिला के पति की मौत हो गई तो इसने ये करवा किसी को नही दिया पति के साथ ही करवा लेकर सती हो गई उसी समय इस महिला ने कहा था की यदि भविष्य में इस गांव में किसी महिला ने करवा चौथ का ब्रत रखा तो उसकी पति की उसी समय मौत होंगे जाएगी  इस लाई यहाँ की महिलाए करवा चौथ का ब्रत नही कहती है !


Advertisement
Related Content

the shiv ling of baneshvar which break the pride of orangjeb कट्टरपंथी इस्लामिक बादशाह भी इस शिवलिंग को हिला न पाया

सतयुग में एक राजा था नाम था बाणेश्वरम्, वो शिव भक्त था और उसने महादेव की तपस्या कर उन्हें प्रकट किया, वरदान में उसने शिव को ही महल में रहने को कहा.

A lingam, the length of which is increasing every year of Bholenath भोलेनाथ का एक ऐसा शिवलिंग जिसकी लम्बाई हर साल बढ़ती है

छत्तीसगढ़ जिले में एक ऐसा प्राकृतिक शिवलिंग है जो भूतेश्वर नाथ के नाम से प्रसिद्ध है जो विश्व का सबसे प्राकृतिक शिवलिंग है जिसकी लम्बाई हर साल छ से आठ इंच बढ़ती ह

why arjun's chariot saved inspite of divine weapon used युद्ध समाप्ति के बाद जैसे ही कृष्ण और अर्जुन रथ से उतरे वो भस्म हो गया!

घटोत्कच के पुत्र बर्बरीक ने अपना शीश कृष्ण को दान दे दिया और अंतिम इच्छा में युद्ध देखने के लिए उसे भगवान ने दिव्य दृष्टि दी जिससे उसने भी ये नजारा देखा.

the pandavas, draupadi was also wives क्या द्रौपदी के अलावा भी पत्निया थी पांडवो की

प्राचीन ग्रंथो के अनुसार यह सभी जानते है की द्रोपदी पांडवो की पत्नी है लकिन इसके अलावा भी पांडवो की अन्य पत्निया थी जिसके जिक्र बहुत ही काम मिलता है

krishna murdered kansa and chanur wresler "कृष्ण चाणूर मर्दनम्" कृष्ण की चाणूर वद्ध की कथा

वासुदेव के पुत्र कंस और चाणूर के प्राण हराने वाले, माता देवकी को परमानन्द देने वाले हे श्री कृष्ण आप इस विश्व के जगतगुरु हो.

the worst curse in history of indian mythology अहिल्या से कुकर्म पर इंद्र को मिला था ये भयंकर श्राप!

भारतीय पौराणिक इतिहास में जब सबसे बुरे श्राप के बारे में बात होती है तो सबसे पहले नाम आता है गौतम ऋषि द्वारा इंद्र को दिए गए श्राप का, जिसकी भयावहता ऐसी थी की

kansa was son of an rakshasa not of ugrasena कंस की माँ पद्मावती के थे राक्षस से नाजायज सम्बन्ध, उग्रसेन नही थी कंस के पिता!

आज कृष्ण जन्माष्टमी है और कृष्ण लीला से जुडी अनजान बातों पर चर्चा भी हो रही है, ऐसे में एक चर्चा ये भी छिड़ चुकी है की क्या एक मनुष्य का पुत्र इतना निर्दई हो

the greatest king of suryavansha, may be great from rama चांडाल बाप ने अपने बेटे के अंतिमसंस्कार से किया मना, माँगा शुल्क

त्रेता युग में जिस सूर्यवंश में राजा राम ने जन्म लिया था, उसी इक्ष्वाणु कुल के राजा हरिश्चंद्र ने ही बिना शुल्क के अपने ही बेटे के अंतिम संसकर से इंकार कर दिया

ghatotkach and bhima used to play chess game from these sticks नागालैंड में आज भी पड़ी है भीम और घटोत्कच द्वारा खेले गए शतरंज की गोटिया

पांडव वनवास में थे तो भीम सोये हुए भाइयो और माँ को सुरक्षित रखने के लिए रात में पहरा देता था, ऐसे में एक दिन एक राक्षस ने उसपे हमला कर दिया. राक्षस बलि था और

STORY AKBAR AND BIRBAL क्या कारण था जो बीरबल ने अकबर को कहा मुर्ख

बीरबल ने भरी सभा में अकबर को मुर्ख कहा सरे विदेशी मेहमानो के सामने उनका अपमान किया तो अकबर चिल्लाये की तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई हमें मुर्ख कहने की

the legend of sage kashyap father of lords and demons ऋषि कश्यप की थी 17 पत्निया देव दानवो के पिता , पार्वती के थे बहनोई!!

ब्रह्मा के मानस पुत्र ऋषि कश्यप जो की सप्त ऋषियो में शुमार है, के अगर निजी जिंदगी के बारे में आपको कुछ नही मालूम है तो हम बता देते है उनका लगभग पूरा बायोडाटा.

indradyumya after enjoying heaven get berth as elephant gajendra सशरीर स्वर्ग जाने के बाद भी इस राजा को क्यों मिली हाथी की यो-नि?

त्रेतायुग के राजा भारत( मनु के पुत्र) के पुत्र हुए थे राजा इन्द्रद्युमय वो बेहद ही दानवीर उदार धार्मिक थे, उन्होंने कोई पाप नहीं किया पर उन्होंने सब कार्य

once arjun feel pride over being lord krishna's devotee get the treatment एक अहिंसक ब्राह्मण ब्राह्मण, क्यों हुआ नारद द्रौपदी प्रह्लाद और अर्जुन के खून का प्यासा?

एक बार अर्जुन को अहंकार हो गया कि वही भगवान के सबसे बड़े भक्त हैं। उनको श्रीकृष्ण ने समझ लिया। एक दिन वह अर्जुन को अपने साथ घुमाने ले गए.

when an transgender defeated whole hastinapur army एक छक्के ने अकेले दम पर छक्के छुड़ा दिए थे हस्तिनापुर के योद्धाओ के

ये उस दिन की बात है जब पांडव तरह वर्ष के वनवास काटने के बाद अज्ञातवास ख़त्म कर चुके थे, विराट प्रदेश की सेना अपने दूसरे युद्ध में उलझे हुए थे.

Massacre of AK-47 weapon अब तक 18 करोड़ लोग मारे जा चुके है AK-47 से, जाने विनाशकारी तथ्य!

एक विधार्थी जो किसानो के लिए उपकरण बनाना चाहता था संयोग से फौजी बन गया, लेकिन जब फ़ौज में उसे पारम्परिक हथियार मिले और घायल हुआ युद्ध में तो बना डाला विनाशक...

when arjun feel proud on his pietism on krishnaa इस भक्त की भक्ति को देख घमंडी अर्जुन भी रो पड़ा

अर्जुन को सर्वश्रेष्ठ भक्त होने का घमंड हो गया, वो सोचता था की कृष्णा ने मेरा रथ चलाया मेरे पग पग पर सहायता की वो इस लिए की में भगवन का सर्वश्रेष्ठ भक्त हूँ.

What really were the Messiah Tamil Brahmin? क्या सच में ही थे ईसा मसीह तमिल ब्राह्मण?

आपको पता है ईसा मसीह कौन थे, क्या ईसा मसीह ब्राह्मण थे? यह सवाल किसी को भी चौंका सकता है जबकि एक किताब ...

meera bai were the greatest saint of lord krishna जिस राठोड वंश ने मीरा को कुलक्षिणी कहा उसे अब मीरा के नाम से जाना जाता है

अजीब बात है जिस राठोड वंश ने अपनी आन बान के लिए विधवा मीरा बाई को कष्ट दिए और मारने का प्रयास किया, आज उसी के नाम से राठोड़ो की शान है और मर गए मारने वाले.

nation celebrating ninth navratra and ramnavami today आज है रामनवमी भगवान राम का जन्मदिवस और माता सिद्धिदात्री की आराधना का दिन

चैत्र के नवरात्रों का आज आखिरी दिन है जिसमे मां दुर्गा नौवे रूप माता सिद्धि-दात्री की पूजा का विधान है । मां हमे हर कार्य में पारंगत होने की शक्ति देती है

sad story of goddess sita's exile happened due to curse of sage bhrigu भृगु ऋषि के प्रार्थना करने पर श्रीराम ने स्वीकारी थी सीता जी की वनवास की इच्छा!

सिताजी के त्याग के सवाल पर श्री राम जी पर आज की मूर्क स्त्रियां या यूँ कहें की बकवादी लोग (जो हिन्दू धर्म से घृणा करते है ) ऊँगली उठाते है. जबकि शाश्त्र कहता ह

 Hajj is a temple of the soul after death, everyone has to go to visit the temple , said to be मंदिर जहां मौत के बाद हर किसी की आत्मा को दर्शन के लिए जाना पड़ता है!

आपने कई मंदिरो के बारे में बारे में सुना होगा और उनको देखा भी होगा लेकिन आज में आपको एक ऐसे मंदिर के बारे में बता रहा हु जहा एक न एक दिन हर किसी को दर्शन करने

when you did mistake, you have to take responsibility like sukanya अगर आपने गलती की है चाहे अनजाने में भी तो आपको सुकन्या की तरह दायित्व लेना चाहिए

प्रायश्चित व सेवाभावना के कारण सुकन्या का नाम च्यवन ऋषि ने 'मंगला' रख दिया। वह आज भी अपने गुणों के कारण नारी-जगत में वंदनीय व पूजनीय है।

The severed head was meghanaad really began to laugh but why? क्या सच में मेघनाद का कटा सिर हंसने लगा था लेकिन क्यों?

रामायण में मेघनाद राम ओर लक्ष्मण को मारना चाहता था लेकिन उसकी मृत्यु हो जाती है लेकिन उसका सिर काटने पर भी वो हसने लगता ! क्योकि जब...

Why dog unique way of justice-law told Sriramcndra आखिर क्यों कुत्ते ने न्याय का अनोखा तरीका श्रीरामचन्द्र जी को बताया

भगवान् श्रीराम के बारे में आपने काफी कुछ सुना होगा लेकिन ये रोचक कहानी नहीं सुनी होगी! कुत्ते भी अपने पाप और न्याय के लिए कुछ खास ही करते है जैसा...