Advertisement

यहाँ माशूम बच्चो को गोबर जबरन लिटाया जाता है ! बजह जानकर चौक जाओगे

"अनोख़ी परम्परा यहाँ माशूम बच्चो को जबरन गोबर में लिटाया जाता है ये ऐसी परम्परा कई बार जानलेवा भी हो सकती है जाने इस अनोखी परम्परा के बारे में यहाँ ऐसा क्यों होता"

Advertisement

आपने कई अनोखी परम्पराओ के बारे  में सुना होगा लेकिन आज में आपको एक अनोखी परम्परा के बारे में बता रहा हु जिसके बारे में आपने कभी नही सुना होगा इनमे कई परम्पराए ऐसी होती है जो जानलेवा हो सकती है इस परम्परामे जबरन माशूम बच्चो को गोवर पर लिटाया जाता है इस तरह की परम्परा को बैतूल मनाया जाता है यहाँ ऐसा क्यों किया जाता है जाने इस अनोखी परम्परा के बारे में !


Image Source:  bhaskar.

यहाँ हर साल ग्वाल बाल मिलकर गोवर का एक गोवर्धन पर्वत बनाते है जिसे फूलो से सजाया जाता है उसके बाद यहाँ लोग इस पर्वत पूजा होने के दौरान लोग इस पर्वत के ऊपर अपने छोटे बच्चो को लिटाते है यहाँ बच्चो को जबरन इस गोवर्धन पर्वत पर लिटाया जाता है लेकिन इस परम्परा को लेकर डॉक्टरों का अलग मानना है डॉक्टरों की राय है की गोबर सक्रबटायफस जैसे कई खतरनाख बेक्टेरिया होते है !

अगर इन बेक्टेरिया का इन्फ़ेक्सन बच्चे के शरीर में फेल जाता है तो बो जान लेबा भी हो सकता है इन तथ्यों के होने के बावजूद भी जिले के मलेरिया कार्यलय में  ऐसा ही एक आयोजन हुआ था यहाँ शहर के बीचो बिच मलेरिया हॉस्पिटल शहर के बीचो बिच गोबर्धन बनाया गया यहाँ गोबर्धन की पूजा की गई थी यहाँ गोबर से गोबर्धन पर्बत बनाया गया था यहाँ इस पर्वत की पूजा की गई थी उसके बाद छोटे छोटे बच्चो को इस पर्बत के ऊपर लिटाया गया था !
Image Source:  scoopnest

यहाँ ले लोग इस पर्बत पर अपने बच्चो को इस लिए लिटाते है ताकि उनको किसी भी तरह की कोई बीमारी न हो ये परम्परा यहाँ सदियो से चली आरही है इस परम्परा को मानने बाले लोग अप्पने बच्चो को निरोगी रखने के लिए इस परम्परा को मानते है यहाँ के एक व्यक्ति ने बताया की यहाँ ऐसा नही है की यहाँ के लोग अशिक्षित हो यहाँ के लोग अशिक्षित नही है इसमें कई पड़े लिखे लोग भी है जो इस परम्परा को मानते है !
Image Source: bhaskar.

ये लोग पड़े लिखे है फिर भी ये लोग इस अन्धविस्वाश को मानते है इनका कहना है की गोवर में लिटाने से यहाँ कभी किसी बच्चे को नुकसान नही हुआ और इस गोवर के बारे में जैसा डॉक्टर्स कहते है बेसा कुछ देखने को नही मिला इसी बात को लेकर यहाँ के स्थानीय निवासी मनोज का कहना है की पहले की बात अलग थी लेकिन डॉक्टरों के मुताबिक इन दिनों घास फुस में सक्रबटायफस जैसे बेक्टेरिया होते है जो बच्चो के लिए जान लेवा हो सकते है !


इस लिया यहाँ के कुछ लोगो का कहना है की परंपरा पानी जगह रहे लेकिन यहाँ के बच्चो को जान पूछ कर बीमार के हबाले किया जाता है इस तौर तरीके में थोड़ा बदलाव करना होगा डॉक्टरों का कहना है की परम्पराओ और अंध बिश्वास के नाम पर और भी ऐसी कई परम्परा है जो लोगो के लिए जानलेवा सावित हो रही है इस लिए ऐसी जान लेवा परम्पराओ से बचना चाहिए !


Advertisement
Related Content

the chair of state used in earth sama आखिर क्योे समां गया सिंघासन धरती में

हिन्दू पौराणिक कथाओ के अनुसार सीता माता के बैठते ही सिंघासन धरती में समां गया कथाओ में इसके अनेक प्रमाण मिलते है धरती से नागो का एक सिंघासन निकला

eklavya who donated his thumb to guru drona, from whom he was killed? किस के हाथो मारा गया था एकलव्य?

गुरु द्रोणाचार्य ने अर्जुन को उससे विशेष नेह के चलते वचन दिया था की उसे सर्वश्रेष्ठ धनुर्धर बनाऊंगा, इस कारण जब ड्रोन ने वन में एकलव्य को देखा तो वो डर गए.

bhanumati the princess of kalinga state कंही की ईंट कंही का रोड़ा, भानुमति ने कुनबा जोड़ा, कौन थी भानुमति

कलिंग की राजकुमारी थी भानुमति इस पात्र का विशेष रूप से वर्णन नहीं किया गया था महा ग्रन्थ महाभारत में. जी हाँ भानुमति महाभारत की पात्र थी इन्ही पर ये कहावत बनी ह

good or bad done will be punished today tomorrow or later in next berth अच्छे और बुरे कर्मो का परिणाम मिलकर ही रहता है चाहे आज या कल या फिर अगले जन्मो में

टिट फॉर टेट , जीते जी नहीं तो मृत्यु उपरांत या फिर अगले जन्म में । अच्छे हो या बुरे सभी कार्यो चाहे वो कार्मिक हो या फिर मानसिक उनका फल अवश्य मिलेगा.

maharashi valmaki was a dacoit क्या रामायण के रचयिता महर्षि वाल्मीकि एक डाकू थे

महर्षि वाल्मीकि को आदिकवि कहा जाता है उन्होंने रामायण की रचना की थी लेकिन वह पहले एक डाकू हुआ करते थे जो आगे चलकर महर्षि के रूप में प्रचलित हुए

 Bhima of Mahabharata miracle Svsesh महाभारत काल के भीम का चमत्कारिक सवशेष ! जाने इसके बारे में

अब तक आपने महाभारत के कई अबशेषो के बारे में सुना होगा लेकिन आज में आपको एक ऐसे अबशेष के बारे में बता रहा हु जो भीम का है जाने भीम के इस अबशेष के बारे में ......

rudra avatara lord bajarang bali can give 8 powers to men आप भी बन सकते मच्छर जितने और पहाड़ सरीके विशाल, अगर आप के पास है सिद्धिया

अगर आप चाहते है की जब चाहे छोटा रूप धार ले और जब चाहे इतने बड़े आकर के हो जाये की सब आप को देख सके, या बिना दिखे इतने वजनी हो जाये की

did you know about lord shiva 3 other sons excluding ganesha n kartikeya? श्रावण विशेष: भगवान शिव के दो नहीं पांच थे पुत्र

हम आपको इस विशेष माह में बताते है, आ शायद शिव के पुत्रो के बारे में जानते होंगे गणेश और कार्तिकेय पर आपको पता है शिव को इन दो के आलावा भी तीन और पुत्र है.

the great devotees of lord vishnu भगवान कब क्या कर रहे है ये भी जानने वाले महाभक्त की कहानी

आज आपको ऐसे एक भक्त के बारे में बता रहे है जो की इससे भी एक कदम आगे बढ़ गया, और उसने तो ये तक जान लिया की अब भगवान क्या कर रहा है.

7 mahamanav of hindu dhram ये है वो सात महामानव जो हजारों वर्षों से हैं जीवित

भारतीय हिंदू इतिहास, पुराण और प्रमुख ग्रंथो के अनुसार इस दुनिया मैं ऐसे सात व्यक्ति हैं जो चिरंजीवी हैं। मतलब इन्हे अमरता का वरदान प्राप्त है ये सभी दिव्य

third generation of guru told the secret what pleased god most? भगवान किस की प्रसन्नसा से होते है सबसे ज्यादा प्रसन्न?

भगवान हमारे अंदर बस्ते है और उसे महसूस कर सकते है, अगर हम ऐसा करले तो हमें अपनी इच्छाओ को भगवान को बताने की जरुरत नहीं है अर्थात हमें कुछ मांगने की जरुरत नहीं.

Yudhisthira in the Mahabharata war by sin, hell had to look महाभारत युद्ध में युध‌िष्ठ‌िर ने किया पाप, देखना पड़ा नर्क

महाभारत युद्ध में द्रोणाचार्य के रणकौशल से पांडव-सेना के कई बड़े-बड़े महारथी भी चिंता में हो गए थे। इसके कारण...

on occasion of ganesh chaturthi, lord ganesh's marriage story भगवान गणेश थे बालब्रह्मचारी, फिर कैसे की दो शादिया?

भगवान गणेश बालब्रह्मचारी थे लेकिन बाद में ऐसा क्या हो गया की उन्होंने एक नही दो दो शादिया की? इसके लिए पौराणो के गर्भ में जाना होगा आपको लेकिन हम है न. सति

Do you know the story of the Mahabharata, Duryodhana and his wife's unsolved fashion क्या आप जानते है महाभारत के दुर्योधन और पत्नी भानुमति की अनसुलझी कहानी

महाभारत में कई तरह के पार्ट में कई कहानिया बानी है जिनमे किए गए पाप पुण्य का भी वर्णन है! इसमें दुर्योधन द्वारा हरण विवाह किया था उसमे भानुमति..

the saga of cross curse from friends of radha krishna! राधाकृष्ण के मित्रो ने दिए एक दूसरे को श्राप, एक बना अंध भक्त तो दूसरा तानसेन का बाप!

राधा कृष्ण के मित्र भला ऐसा कैसे कर सकते है ये सोच के आप भी चक्कर खा गए है न, लेकिन जान ले की ऐसा ही हुआ था लेकिन इसके पीछे भगवान का ही हाथ था. जाने पूरी कथा...

The story of jyotipanth who got education from vyas sage पिता चलाते थे गुरुकुल, फिर भी ढपोल रह गया पुत्र जाने कैसे हुआ तत्व ज्ञान!

एक ब्राह्मण गुरुकुल चलाते थे जिनका नाम था गोपाल पंथ. उनके एक पुत्र था और विडम्बना देखिये तमाम शास्त्रो का ज्ञान होने के बाद भी गोपाल पंथ अपने बेटा ढपोल रह गया.

 Snake is offered to the people in the temple tradition abiotic Nagy अजीव परम्परा इस मन्दिर में नाग नागी को चढ़ाते है लोग ! जाने नाग नागिन चढ़ाने से क्या होता है

आपने कई मंदिरो के बारे में सुना होगा और देखा होगा लेकिन आज में आपको एक ऐसे मंदिर के बारे में बता रहा हु झा लोग भगवान् को नाग नागिन का जोड़ा चढ़ाते है .........

ghatotkach and bhima used to play chess game from these sticks नागालैंड में आज भी पड़ी है भीम और घटोत्कच द्वारा खेले गए शतरंज की गोटिया

पांडव वनवास में थे तो भीम सोये हुए भाइयो और माँ को सुरक्षित रखने के लिए रात में पहरा देता था, ऐसे में एक दिन एक राक्षस ने उसपे हमला कर दिया. राक्षस बलि था और

unknown story from ramayana राम के जीजा ने कराया था अपने तपोबल को खोके रामजन्म

आप को ये जान कर हैरानी होगी की राजा दशरथ के कौशल्या से एक पुत्री थी जिसका नाम था शांता उनके पैदा होते ही अयोध्या में भयंकर सुखा पड़ा.

After all, how a thief god of wealth? आखिर एक चोर कैसे बना धन के देवता?

आपको पता ही होगा कि धन के देवता कौन है, पर यह नहीं पता होगा एक चोर कैसे देवता बन सकता है...

draupadi loved arjun most, but bhima was her real lover द्रौपदी से प्रेरित है आज की लड़कियों की सोच, जाने किस विषय मैं

जब पांडव वनवास में थे, तब उसी समय द्रुपद नरेश ने अपनी पुत्री को ब्याहने के लिए स्वयंवर का आयोजन किया. दुर्योधन समेत कई सारे देशो के राजा उपस्थित थे.

people of ancient era were very frank in s*x, as dharma decline limits extended by god सतयुग में नही थे भाई बहिन, माँ बेटे के रिश्ते, जैसे जैसे घटा धर्म बढ़ा दी गई मर्यादाये!

सत्य, तप, यज्ञ और दान सतयुग में धर्म के ये चार पैर थे, सतयुग में धर्म गाय के रूप में रहता था जिसके ये चार पैर थे गाय नैतिकता का प्रतिक थी.

love marriages of mahabharat lord krishna and his son did it too श्रीकृष्ण और अर्जुन ही नही, उनके पुत्रो ने भी किया था भाग के प्रेम विवाह!

आज कल भाग के शादी करने वाला ट्रेंड तो काफी कम हो गया है, सिर्फ गाँवो में ही अभी ऐसे किस्से सुनने मिलते है क्योंकि लोगों ने भी अब प्रेम को स्वीकार कर लिया है.

What makes a tree brought conflict between Indra and Krishna क्या एक वृक्ष बना इन्द्र और श्री कृष्ण के बीच युद्ध का कारण

पारिजात वृक्ष पुरे भारत में पाये जाते है इनमे कई गुण होते है इसको चुने मात्र से ही सारी थकन दूर हो जाती है ये वृक्ष १० फिट से २५ फिट तक उचे होते है